अच्छी आदतों पर निबंध हिंदी में Essay on good habit in hindi

अच्छी आदतों पर निबंध Essay on good habit in hindi

हैलो दोस्तों नमस्कार आपका बहुत-बहुत स्वागत है, इस लेख अच्छी आदतों पर निबंध (Essay on good habit in hindi) में।
दोस्तों इस लेख में आप अच्छी आदतों के बारे में जानेंगे दोस्तों हम सभी जानते है, कि अच्छी आदतें ही हमें देश तथा समाज में प्रिय तथा सम्मान के पात्र बनाती है।
इसलिए यहाँ पर हम यह लेख लेकर आये है, जिसमें हम विस्तार से अच्छी आदतों के बारे में पड़ेंगे तो दोस्तों आइये पढ़ते है अच्छी आदतों पर निबंध में :-
अच्छी आदतों पर निबंध

अच्छी आदतें क्या है what is good habit 

अच्छी आदतों पर निबंध - मनुष्य एक सामाजिक प्राणी (Social animal) है और समाज के बिना मनुष्य का कोई अस्तित्व ही नहीं है। इसलिए मनुष्य समाज में रहता है

और समाज में सभी लोगों के साथ सामाजिक सम्बंधो में बंधा रहता है, किन्तु समाज में रहने के लिए सभी लोगों के पास गुणों का होना बहुत ही जरूरी है, किन्तु वे गुण अच्छे होने चाहिए, कियोकि 

अच्छे गुण वे गुण है, जो मनुष्य को समाज में रहने के योग्य बनाते हैं और इन्हीं गुणों को आमतौर पर अच्छी आदतें कहा जाता है।

अच्छी आदतें बचपन से ही बच्चों में आनी शुरू हो जाती हैं, अर्थात बाल्यावस्था में अच्छे गुण स्थायी रूप से विकसित होते है, इसलिए बच्चे के माता-पिता, दादा-दादी, नाना-नानी तथा समाज का यह कर्तव्य होता है कि वह बच्चों को अच्छी आदतें सिखाएँ 

जिससे समाज में उनकी पहचान हो वे एक गुणवान और अच्छे इंसान बन सके तथा समाज और देश की उन्नति में अपना सहयोग दे सके। छोटे-छोटे बच्चों के लिए अच्छी आदतों में जैसे बड़ों का सम्मान करना, उनके पैर छूना, सच बोलना बड़ो की 

बातों को मानना, मुख्यतः देखी जाती हैं, जो उन्हें अपने माता-पिता तथा समाज (Society) और परिवार (Family) के लोगों से प्राप्त होती हैं।

अच्छे मनुष्य के लिए अच्छी आदतें बहुत ही महत्वपूर्ण होती है, जिससे मनुष्य आदर्श गुणवान और एक विश्वसनीय प्राणी बनाता है।

इसलिए अच्छी आदतें होना बहुत ही जरूरी है, क्योंकि अच्छी आदतें ही मनुष्य को ना ही अच्छा गुणवान व्यक्ति बनाती हैं, बल्कि एक स्वास्थ्य और अच्छा शरीर भी प्रदान करती हैं, जिससे मनुष्य रोग मुक्त भी रहता है।

अच्छी आदतों पर निबंध

अच्छी आदतों का विकास Development of good habit 

अच्छी आदतें समाज (Society) में रहने योग्य बनाती है, इसलिए सभी लोगों में अच्छी आदतें होनी चाहिए और अच्छी आदतों का विकास बाल्यावस्था (Childhood) में होता है।

बच्चों में अच्छी आदतें उन्हें दयालु उनके ह्रदय में करुणा प्रेम तथा जोश भरने के लिए उन्हें बचपन से ही वीर पुरषों की कहानियाँ सुनाना चाहिए।

बच्चों में अच्छा बोलचाल लाने के लिए हमें स्वयं अच्छा बोलना चाहिए कियोकि बच्चा अनुकरण (Simulation) से सीखता है। इसके साथ ही बच्चों को धार्मिक नाटक आदि दिखाकर उनमें अच्छी आदतें विकसित कर सकते है।

अच्छी आदतों का महत्व Importance of good habit 

अच्छी आदतों का अर्थ ही होता है, कि मनुष्य के वे गुण  जिसके द्वारा वे अन्य प्राणियों से परस्पर मैत्रीपूर्ण संबंध बनाते हैं, एक दूसरे की मदद करने के लिए हमेशा तत्पर रहते हैं, वही सब अच्छी आदतें होती हैं। 

अच्छी आदते ही मनुष्य को जीवन जीने की राह तथा भविष्य में सफलता (Success) पाने का रास्ता प्रदान करती हैं, कियोकि इनके द्वारा मन नियंत्रित चित्त प्रसन्न रहता है।

इसलिए मनुष्य के जीवन में अच्छी आदतों का महत्व एक अत्यंत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। अच्छी आदतें मनुष्य को समाज में सम्मान और प्रतिष्ठा दिलाने का काम करती हैं, तो वही समाज में संपन्न तथा विपत्ति काल में मदद प्राप्त करने में सहयोगी होती हैं।

अच्छी आदतों के कारण ही मनुष्य के शारीरिक, मानसिक, आध्यात्मिक आदि पहलुओं का भी विकास होता है और वह समाज का एक शिष्टाचारी तथा सबसे प्रतिष्ठित व्यक्ति भी बन जाता है।

इसलिए हर माता-पिता को अपने बच्चों को यह सिखाना चाहिए, कि वह अपने शिक्षकों, बड़े बुजुर्गों आदि के साथ अच्छे प्रकार का व्यवहार करें, दूसरों को बड़ों को सम्मान दें तो छोटों को स्नेह

और प्यार प्रदान करें, पशु पक्षियों के प्रति दया भावना रखें, स्वयं अनुशासित रहें और दूसरों को अनुशासन की शिक्षा भी प्रदान करें, इन सभी की मनुष्य के जीवन में एक अहम् भूमिका है।

सुबह की अच्छी आदतें Good habit of morning 

  1. सबसे पहले सुबह उठकर धरती माँ के पैर छूना चाहिए उनका धन्यवाद करना चाहिए।
  2. माता पिता तथा बड़े बुर्जगों के पैर छूकर आशीर्वाद लेना चाहिए।
  3. गृहणियों को घर की सफाई झाडू पोंछा करना चाहिए तथा बुजुर्गो की सेवा करनी चाहिए।
  4. सुबह सबको फ्रेश होना चाहिए, दातों की सफाई करनी चाहिए फिर नहाकर मंदिर जाकर भगवान से प्रार्थना करनी चाहिए।
  5. सुबह सभी को पौष्टिक नाश्ता तथा बच्चों को गाय या भैस का दूध पीना चाहिए और विद्यालय जाना चाहिए।
  6. ग्रहणियों को सुबह नहा कर पूजा करकर सभी के लिए खाना बनाना चाहिए, उन्हें खाना परोसना चाहिए, बच्चों को स्कूल के लिए तैयार करना चाहिए।

छात्रों के लिए अच्छी आदतें Good Habit for Student 

  1. अपने कमरे तथा आसपास को साफ स्वच्छ रखें- एक अच्छे विद्यार्थी के लिए सबसे अच्छी आदत है, साफ सफाई का विशेष ध्यान देना इसलिए विद्यार्थी को अपने आसपास अपने घर और अपने रूम की अच्छे से साफ सफाई करनी चाहिए क्योंकि जहाँ स्वच्छता का वास होता है, वहीं पर ही बुद्धि का वास होता है।
  2. सुबह जल्दी उठे- सुबह जल्दी उठना विद्यार्थी के लिए उतना ही लाभदायक है जितना अपने शरीर की केयर करना इसलिए विद्यार्थी को एक पर्याप्त नींद लेने के पश्चात सुबह जल्दी उठना चाहिए और अपनी नित्य प्रति के काम सब निपटा कर अपने अध्ययन पर केंद्रित हो जाना चाहिए।
  3. नियमित स्कूल जाएँ - विद्यार्थी के लिए सबसे अच्छी आदत है, नियमित स्कूल जाना विद्यार्थी के पास सर्वाधिक विकास करने के लिए सबसे बड़ा अवसर होता है, नियमित स्कूल जाना क्योंकि स्कूल के बिना शिक्षा अधूरी है और शिक्षा के बिना इंसान अधूरा है। अतः विधार्थियो को नियमित विद्यालय जाकर अपनी शिक्षा पर ध्यान देना चाहिए। विद्यालय में विधार्थी का सर्वागीण विकास होता है। 
  4. नियमित पढ़ना - विद्यार्थी को नियमित पढ़ना भी चाहिए। यह विधार्थी की सबसे बड़ी और अच्छी आदत होती है और यही आदत व्यक्ति को सफल बनाती है, क्योंकि कहा जाता है:- करत - करत अभ्यास जड़मति होत सुजान अध्ययन करने से हम एक अच्छे विषय के ज्ञाता बन सकते हैं।
  5. अपनी पाठ्य पुस्तक और किताबों की देखभाल करना- विद्यार्थी को अपनी पाठ्यपुस्तक और किताबों की भली-भांति देखभाल करना चाहिए। उन्हें फाड़ना नहीं चाहिए, क्योंकि पाठक पुस्तक और किताबों से ही ज्ञान प्राप्त होता है, क्योकि किताबे पाठय पुस्तकें ही ज्ञान प्राप्ति का स्रोत हैं।
  6. अच्छे दोस्तों की संगति करें- विद्यार्थी को केवल अच्छे  ही दोस्तों से दोस्ती करना चाहिए जो दूसरों को सम्मान देते हो उनकी बात मानते हो, और अपनी स्टडी में भी ध्यान देते हो।
  7. खाने पीने पर विशेष ध्यान- विद्यार्थी को खाने-पीने पर विशेष ध्यान देना चाहिए। विधार्थी को सही समय पर पोष्टिक आहार लेना चाहिए। क्योंकि संतुलित आहार विद्यार्थी के सभी अंगों को विकास प्रदान करता है। 
  8. बड़े बुजुर्गों का सम्मान करना- विद्यार्थी की सबसे अच्छी आदत है, कि वह बड़े बुजुर्गों का सम्मान करें अपने शिक्षकों को आदर दे, उनका कहना माने जिससे उनके व्यक्तित्व का भी विकास होता है।

निष्कर्ष Conclusion 

दोस्तों आपने इस लेख में अच्छी आदतों पर निबंध (Essay on good habit) पड़ा अच्छी आदतें मनुष्य को एक प्रतिष्ठित व्यक्ति बनाती हैं

इसलिए सभी व्यक्तियों में महत्वपूर्ण अच्छी आदतें होनी चाहिए क्योंकि आजकल सभी लोग सम्मान पाना चाहते हैं, तो अच्छी आदतें होना भी जरूरी है।

  • FAQ for Good Habit

Q.1. आदत कितने प्रकार के होते हैं?

Ans. आदतें दो प्रकार की होती है अच्छी आदतें जिन्हे दूसरों और खुद का लाभ होता है और बुरी आदतें जिनसे दूसरों और खुद को हानि होती है।

Q.2. हमारी बुरी आदत क्या है?

Ans. हमारी वे सभी बुरी आदतें है, जिनसे हमें प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष तरीके से किसी ना किसी प्रकार की हानि होती है।

Q.3. बच्चों को अच्छी आदत कैसे सिखाएँ

Ans. बच्चों को अच्छी आदतें सिखाने में सबसे आधिक अनुसरण का महत्व होता है, अर्थात बच्चें देखकर सीखते है, इसलिए आप स्वयं में अच्छी आदतों का विकास करें जिनको आपके बच्चें अनुसरण करके सीखेंगे।

  • इसे भी पढ़े:- 

  1. शिक्षित बेरोजगारी पर निबंध
  2. प्राकृतिक आपदा पर निबंध
  3. पुस्तकालय पर निबंध हिंदी
  4. दहेज प्रथा पर निबंध
  5. कन्या भ्रूण हत्या पर निबंध

0/Post a Comment/Comments

в