वैलेंटाइन डे पर निबंध Essay on Valentine's day 

हैलो नमस्कार दोस्तों आपका बहुत - बहुत स्वागत है, इस लेख वैलेंटाइन डे पर निबंध (Essay on valentine's day) हिंदी में। दोस्तों यहाँ आप प्रेमी जोड़ों के सबसे प्रिय त्यौहार तथा दिन वैलेंटाइन डे पर निबंध पड़ेंगे।

जिसमें आप वैलेंटाइन्स डे क्या है? वैलेंटाइन डे का मतलब, वैलेंटाइन डे सप्ताह, इतिहास के साथ ही आप इसका महत्व जानेंगे। तो आइये दोस्तों पढ़ते है, यह लेख वैलेंटाइन डे पर निबंध:-

आखों देखी घटना पर निबंध

वैलेंटाइन डे पर निबंध

वैलेंटाइन्स डे क्या है what is valentine's day 

वैलेंटाइन्स डे को सेंट वैलेंटाइन डे भी कहते हैं, जो 14 फरवरी को मनाया जाता है। ये त्यौहार प्रेमी जोड़ियों को एक दूसरे का महत्व समझाने प्रेम और विश्वास के

सम्बन्ध को अट्टु बनाने और एक दूसरे के लिए अपनी भावनाओं को व्यक्त कराने के लिए बना है। इस दिन प्रेमी एक दूसरे को उपहार ,फूल और ग्रीटिंग कार्ड देकर उन्हें ये बताते हैं

कि उनकी जिंदगी में उनके प्रेमी का क्या महत्व है? ये तोहफो का सिलसिला असल में मॉडर्न इंग्लैंड मे english speaking community के द्वारा 19th सेंचुरी मे शुरू किया गया था।

आगे 20th और शुरुआती 21st सैंचुरी मे ये रिवाज़ दूसरे देशों में भी फैल गया। कई देशों में तो ये अपने फैमिली और फ्रेंड्स को भी उनकी अहमियत समझने के लिए भी जाना जाता है।

ये दिन यूनाइटेड स्टेट्स ,ब्रिटेन ,कनाडा और ऑस्ट्रेलिया में मनाया जाता है। ये दूसरे विश्व में जैसे अर्जेंटीना, फ्रांस, मैक्सिको और साउथ कोरिया में भी प्रचलन में है।

फिलीपींस मे तो ये शादी की सालगिरह मनाने का सबसे सामान्य दिन है और तो और इस दिन कई प्रेमी जोड़े शादी के बंधन में बंधते हैं।

वैलेंटाइन डे पर निबंध

वैलेंटाइन डे का मतलब Valentine's day hindi Meaning

वैलेंटाइन डे का मतलब प्रेम का दिन होता है, इस दिन सभी प्रेमी जोड़े एक दुसरे को गिफ्ट, फूल कई उपहार देकर अपने प्रेम का इजहार करते है।

वास्तव में यह दिन स्नेह का दिन होता है, जिसके कारण लोगों के मध्य आपसी प्रेम तथा विश्वास का सम्बन्ध मजबूत बनता है। वैलेंटाइन डे एक अवकाश का दिन होता है जिसे सारी दुनियाँ में बड़ी ही उमंग, उल्लास, तथा जोश के साथ 14 फरबरी को मनाया जाता है। 

वैलेंटाइन डे कैसे मनाया जाता है How is Valentine's Day celebrated?

वैसे तो वैलेंटाइन डे सिर्फ 1 दिन 14 फरवरी को मनाया जाता है, लेकिन इस त्योहार की शुरुआत एक हफ्ते पहले से हो जाती है। 7 फरवरी से शुरू हुए इस सिलसिले में हर दिन का अपना अलग महत्व है। 

वैलेंटाइन डे सप्ताह Valentine's day week 

  1. रोज़ डे (Rose day) - वैलेंटाइन वीक का सबसे पहला दिन रोज़ डे होता है, जो 7 फरबरी को मनाया जाता है। इस दिन लोग अपने चहेते लोगों को गुलाब देके अपना प्यार ज़ाहिर करते हैं। जहाँ प्रेमी जोड़े एक दूसरे को लाल गुलाब देते हैं वही पीला गुलाब दोस्ती का प्रतीक माना जाता है। ये पुरानी दुश्मनी को भी खत्म करने के लिए एक अच्छा दिन होता है।
  2. प्रपोज डे (Prapose day) - गुलाब देके अपनी भावनाओं को व्यक्त करने के बाद अब आता है अपने प्रेमी को बोल के अपनी भावनाएँ ज़ाहिर करने का मौका, जिसे प्रपोज डे कहते है, जो 8 फरबरी को मनाया जाता है। वैलेंटाइन वीक के दूसरे दिन में लोग अपने प्रेमी को अपनी बातो के द्वारा अपना प्रेम जाहिर करते हैं।
  3. चॉकलेट डे (Chocolate day) - वैलेंटाइन वीक का तीसरा दिन चॉकलेट डे कहलाता है, जो 9 फरबरी को होता है। इस दिन हम अपनी सारी समस्याओं को भूल कर अपने आप को बस इन टेस्टी चॉकलेट्स में लिप्त कर लेते हैं। इस दिन आप अपने प्रेमी को चॉकलेट देके उन्हें खुश कर सकते हैं।
  4. टेडी डे (Teddy day) - ये वैलेंटाइन वीक का सबसे प्यारा दिन होता है जिसे टेड़ी डे कहते है, यह 10 फरबरी को मनाया जाता है। टेडी बियर्स आखिर किसे नहीं पसंद होते है। इसलिए इस दिन लोग अपने प्रेमी को टेडी देके उन्हें खुश करते हैं। 
  5. प्रॉमिस डे (Promise day) - अब आता है वैलेंटाइन डे का सबसे ज़रूरी दिन, ये है प्रॉमिस डे। प्रॉमिस डे 11 फरबरी को मनाया जाता है। इस दिन हम अपने प्रेमी से वादा करते है, कि हमारा ये रिश्ता आखिर तक बना रहेगा चाहे उस रिस्ते को कितनी भी दिक्कतों का सामना करना पड़े लेकिन हम एक दूसरे का साथ कभी नहीं छोड़ेंगे। हम उनको एहसास दिलाते हैं, कि हम इस रिश्ते को कितनी शिद्दत से निभाएंगे और अपने इस वादे को किसी भी हाल में टूटने नहीं देंगे।
  6. हग डे (Hug day) - वैलेंटाइन वीक का छठवाँ दिन होता है हग डे, जो 12 फरवरी को आता है। कई बार जो बातें हम कह के नहीं बता पाते हे वो भावनाएँ हम अपने करीबीयों को एक प्यारी सी झप्पी देके व्यक्त कर सकते हैं। कहते है ना कि एक झप्पी में दुनिया के बड़े से बड़े दर्द को कम करने की क्षमता होती है। ये दुनिया का सबसे ताकतवर healer होता है।
  7. किस डे (Kiss day) - ये वैलेंटाइन वीक का आखिरी दिन होता है, जो 13 फरवरी को आता है। इस दिन प्रेमी जोड़े एक दूसरे को किस करके एक दूसरे के लिए अपनी भावनाएँ ज़ाहिर करते हैं।

तो ये होते हैं वैलेंटाइन वीक के ये 7 दिन जो इस त्यौहार को और भी मजेदार बनाते हैं। इसके बाद 14 फरवरी को आता है, वैलेंटाइन डे जो प्रेमी जोड़ों का सबसे खास दिन होता है। इस दिन प्रेमी जोड़े पिकनिक के लिए किसी गार्डन, तथा अच्छी खूबसूरत जगहों पर जाते है, और अपने प्रेमी के साथ खुशियाँ बांटते है। 

वैलेंटाइन्स डे का इतिहास History of Valentine's day 

असल में वैलेंटाइन्स डे की शुरुआत क्रिस्चन शहीदों को सम्मान प्रदान करने के लिए किया गया था। इससे जुड़ी कई शहीदों की अलग-अलग कहानियाँ है।

वैसे तो वैलेंटाइन नाम के तीन अलग अलग संत इस दिन शहीद हुए थे। इससे जुड़ी एक मान्यता यह भी है कि रोम सेंट वैलेंटाइन नाम के एक संत 3rd सेंचुरी में रहा करते थे। जब क्लाडियस II (Claudius II)

ने ये घोषित किया की शादीशुदा आदमियों से बिना शादी वाले आदमी आर्मी में ज्यादा अच्छा प्रदर्शन करते हैं, तो उन्होंने शादी का रिवाज ही खत्म कर दिया।

संत वैलेंटाइन ने एहसास किया कि ये तो न्याय के विपरीत है और इसलिए वो छुप छुप के नई प्रेमी जोड़ियों का विवाह कराते रहे।

जब क्लाडियस को इसका पता चला तो उसने संत वैलेंटाइन को मौत की सजा सुना दी। वहीं कुछ लोगों का कहना था कि ये सेंट वैलेंटाइन टरनी के है। इसके चलते उन्हें भी रोम के बाहर मार दिया गया था।

इससे जुड़ी और भी एक कहानी है। वो ये है की वैलेंटाइन ने रोम के जेलों से क्रिस्चन्स को भागने में मदद की थी। रोम के जेलों में उनके साथ बदसलूकी की जाती थी। वहाँ उनको मारा पीटा जाता था

और बुरी तरीके से प्रताड़ित किया जाता था। ऐसा माना जाता है कि सेंट वेलेंटाइन खुद ही वो पहले आदमी है जिन्होंने अपनी जेलर की बेटी को पहले एक ग्रीटिंग भेजा था।

असल में वो खुद उससे प्यार में पड़ गए थे क्योंकि वो बहुत अच्छी थी और जेल मे सब का बहुत ध्यान रखती थी और उनको खाना भी खिलाती थी।

मरने से पहले इन्होंने एक पत्र में ‘From your valentine’ करके एक लाइन लिखी थी जिसे आज भी अक्सर इस्तेमाल किया जाता है।

वैलेंटाइन डे का महत्व Importence of Valentine's day 

वैलेंटाइन डे असल में प्यार का प्रतीक है, और प्यार सृष्टि को चलाने का एकमात्र आसार। ये तो सब जानते हैं कि प्यार के बिना दुनिया का चलना नामुमकिन है।

ऐसे में प्यार का महत्व दुनिया को समझाने के लिए एक ऐसे दिन का होना बहुत जरूरी है। मनुष्य का बेसिक करैक्टर ही प्रेम पर आधारित है,

तो क्यों ना अपनी भावनाओं को व्यक्त करने के लिए एक दिन को चुना जाए जिसदिन कोई भी आपकी भावनाओं को गलत ना समझ के इन्हें सम्मानपूर्वक रूप में देखेगा। वैलेंटाइन ऐसा ही 1 दिन है।

ये सिर्फ प्रेमी जोड़ों के बीच ही भावनाओं का आदान प्रदान नहीं है बल्कि कोई भी भावना जो आप अपने करीबी दोस्तों और रिश्तेदारों से व्यक्त करना चाहते हो या उन्हें उनके प्यार के लिए धन्यवाद करना चाहते हो तो उसके लिए भी इस दिन को चुन सकते हैं। 

उपसंहार Conclusion 

जहा आज पूरी दुनिया मतलबी हो रही है और इंसान के भावनाओं की कदर कम हो रही है, वहा ऐसे दिनो का महत्व और भी बढ़ जाता है,

जब लोग अक्सर अपने काम काज में इतना व्यस्त होता है कि अपने करीबियों की भावनाओं का ध्यान नहीं रख पाते है तो रिश्ते कहीं न कहीं टूटने की कगार पर आ जाते हैं, इसलिए इसे एक छुट्टी के रूप में मनाया जाता है

और इस दिन का पूरा समय हम अपने करीबियों को देते हैं जिससे उन्हें भी ये बता सके कि वो हमारे लिए कितना जरूरी है। ये एक हफ्ते आपके साल भर की भूल चूक माफ़ कर सिर्फ और सिर्फ भावनाओं और प्यार को समर्पित होते हैं

दोस्तों आपने इस लेख में वैलेंटाइन डे पर निबंध (Essay on valentine's day) पढ़ा। आशा करता हुँ, आपको यह लेख पसंद आया होगा।

इसे भी पढ़े:-

  1. जीएसटी पर निबंध
  2. देशप्रेम पर निबंध
  3. लाल किला पर निबंध