प्राथमिक चिकित्सा पर निबंध Essay on first aid

प्राथमिक चिकित्सा पर निबंध Essay on first aid in hindi 

हैलो नमस्कार दोस्तों आपका बहुत - बहुत स्वागत है, इस लेख प्राथमिक चिकित्सा पर निबंध (Essay on first aid  in hindi) में।

दोस्तों इस लेख के माध्यम से आप प्राथमिक चिकित्सा क्या है? प्राथमिक चिकित्सा की परिभाषा के साथ उद्देश्य जान पायेंगे, तो आइये करते है शुरू प्राथमिक चिकित्सा का महत्व:-

प्राथमिक चिकित्सा पर निबंध

प्राथमिक चिकित्सा क्या है what is first aid 

मानव शरीर (Human Body) एक प्रकार से एक यंत्र है, जो विभिन्न प्रकार के कलपुर्जों से मिलकर बना हुआ है, अगर एक भी पुर्जा खराब होता है, तो उसका प्रभाव अन्य दूसरे कल पुर्जों पर भी पड़ने लगता है,

इसीलिए मनुष्य को स्वयं ही अपने शरीर की रक्षा करनी होती है, किंतु आए दिन यह भी खतरा बना रहता है, कि पता नहीं कब कहां और कैसे उसके साथ कोई दुर्घटना हो जाए। जैसे कि घर में उपयोग में लाए जाने वाले विभिन्न प्रकार के यंत्रों से हाथ पैर कट जाए,

बिजली का झटका लग जाए या फिर किसी सवारी गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हो जाए और यह सभी घटनाएँ कुछ ऐसी परिस्थितियों में कुछ ऐसे स्थान पर भी हो जाती हैं, जहाँ पर डॉक्टर का पहुँच पाना बड़ा ही मुश्किल होता है।

ऐसे कठिन समय में इन परिस्थितियों से निपटने के लिए प्राथमिक चिकित्सा (First Aid) बहुत ही मायने रखती है, इसीलिए प्राथमिक चिकित्सा वह उपचार होती है,

जिसके द्वारा तुरंत ही घटना स्थल पर प्राथमिक उपचार किया जा सके तथा होने वाली घटना के प्रभाव को कम किया जा सके, इसीलिए

प्राथमिक चिकित्सा के बारे में केवल ग्रहणियों को ही नहीं बल्कि सभी मनुष्यों को बालकों को छात्र-छात्राओं को जानकारी अवश्य होनी चाहिए।


प्राथमिक चिकित्सा पर निबंध

प्राथमिक चिकित्सा की परिभाषा First Aid Definition 

डॉक्टर के पहुँचने से पूर्व ही घटनास्थल पर घटना से शिकार व्यक्ति को घटना के प्रभाव को कम करने वाली चिकित्सा को प्राथमिक चिकित्सा कहा जाता है,

अर्थात ऐसी चिकित्सा जहाँ पर डॉक्टर का पहुंचना संभव नहीं होता उस स्थान पर डॉक्टर के बिना कुछ उपचार है जिससे उस घटना से ग्रसित व्यक्ति पर उस घटना का प्रभाव कम पड़े उसको प्राथमिक चिकित्सा (First Aid) कहा जाता है।


प्राथमिक चिकित्सा के उद्देश्य Objective Of First Aid 

प्राथमिक चिकित्सा का अर्थ यह नहीं हो सकता, कि प्राथमिक चिकित्सा के पश्चात डॉक्टरी चिकित्सा की आवश्यकता नहीं रह जाती है, इसलिए इसके उद्देश्य प्राथमिक चिकित्सा से सर्वथा भिन्न है, जिन्हे हम निम्न प्रकार से समझते हैं:-

  1. तुरंत सहायता:- प्राथमिक चिकित्सा का यह सबसे प्रमुख उद्देश्य होता है, कि घटना स्थल पर घटना से ग्रसित व्यक्ति को तुरंत सहायता उपलब्ध हो, जिससे उसकी घबराहट उसकी तकलीफ को कम किया जा सके।
  2. जीवन रक्षा करना - व्यक्ति के जीवन की रक्षा करना प्राथमिक शिक्षा का बहुत महत्वपूर्ण उद्देश्य माना जाता है, क्योंकि कुछ घटनाएँ ऐसी हो जाती हैं, जिसमें व्यक्ति के शरीर से अत्यधिक मात्रा में रक्त स्राव होने लगता है और अधिक रक्तस्राव की स्थिति में व्यक्ति घटनास्थल पर ही मृत्यु को प्राप्त हो जाता है, यहाँ पर प्राथमिक चिकित्सा के आधार पर घटनास्थल पर तुरंत ही उस व्यक्ति के रक्त स्त्राव को रोकना जिससे उस व्यक्ति के जीवन की रक्षा हो सके।
  3. अस्थाई चिकित्सा - जब घटना स्थल पर डॉक्टर चिकित्सा उपलब्ध नहीं होती है, उस स्थान पर प्राथमिक चिकित्सा असरकारक होती है और प्राथमिक चिकित्सा उस समय व्यक्ति को बहुत ही लाभ पहुँचाती है,  यहां तक कि वह व्यक्तियों की मृत्यु को भी टाल देती है। किन्तु जब डॉक्टर चिकित्सा आरंभ हो जाती है, तब प्राथमिक चिकित्सा को बंद कर दिया जाता है, इसीलिए यह अस्थाई चिकित्सा होती है, किन्तु बड़ी ही असरकारक और लाभप्रद चिकित्सा होती है।

प्राथमिक चिकित्सा का महत्व First aid importance in hindi 

प्राथमिक चिकित्सा के बारे में सभी लोगों को जागरूक होना चाहिए और इसकी जानकारी भी होनी चाहिए क्योंकि प्राथमिक चिकित्सा एक ऐसी चिकित्सा है जो व्यक्तियों की जान बचा सकती है प्राथमिक चिकित्सा के महत्व यहां पर निम्न प्रकार से बताए गए हैं:-

विभिन्न प्रकार के खेलों को संचालन करने के लिए, व्यायाम के लिए, कौशल परीक्षण खेलकूद आदि ऐसे कार्यक्रम होते हैं, जहाँ पर ऐसे व्यक्ति की आवश्यकता अवश्य होती है, जिसके पास प्राथमिक उपचार से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी हो ताकि वहाँ पर किसी भी व्यक्ति, खिलाडी को चोट लगती है या फिर वह किसी भी कारण घटना से ग्रसित होता है, तो उसको प्राथमिक चिकित्सा दी जा सके। 

जब कोई भी खेल प्रतियोगिता कराई जाती है, खेलकूद वगैरा प्रोग्राम कराए जाते हैं, तो वहाँ पर प्राथमिक चिकित्सा उपकरण अवश्य होने चाहिए और वहां पर कोई ऐसा व्यक्ति अवश्य होना चाहिए, जो प्राथमिक चिकित्सा के बारे में भली-भांति परिचित हो, क्योंकि ऐसे स्थान पर व्यक्तियों की और खिलाड़ियों की चोटिल होने की संभावना अधिक होती है। अतः यहाँ पर प्राथमिक चिकित्सा की आवश्यकता होती है, जिस कारण से घटनास्थल पर ही प्राथमिक चिकित्सा की जा सके और बड़े हादसे को टाला जा सके।

प्राथमिक चिकित्सा का महत्व खेलकूद में ही नहीं है, इसका महत्व जीवन के हर एक पड़ाव में है। घर के व्यक्तियों को भी घर की ग्रहणियों को भी प्राथमिक शिक्षा के बारे में जानकारी होनी चाहिए, क्योंकि घर पर भी विभिन्न ऐसे हादसे हो जाते हैं, जो जानलेवा होते हैं। अतः ऐसी स्थिति में प्राथमिक चिकित्सा ही उल्लेखनीय योगदान देता है।

प्राथमिक चिकित्सा विद्यालयों, महाविद्यालयों, शारीरिक विद्यालयों में भी आवश्यक होती है, जहाँ पर विभिन्न कारणों के फलस्वरूप विद्यार्थी कई घटनाओं के शिकार हो जाते हैं, उस स्थिति में प्राथमिक चिकित्सा ही व्यक्तियों के जीवन की रक्षा करती है।

प्राथमिक चिकित्सा के महत्व को ध्यान में रखते हुए आज सभी लोग पूरी रूप से जागरूक हो चुके हैं, लोग प्राथमिक चिकित्सा के बारे में ज्ञान भी रखते हैं और प्राथमिक चिकित्सा उपकरण बॉक्स भी लोगों के पास होता है, चाहे वह यात्रियों की बस हो या फिर कोई निजी कार या फिर कोई विद्यालय या फिर कोई खेल का मैदान हर जगह प्राथमिक चिकित्सा की जरूरत दिखाई देती है, इसलिए प्राथमिक चिकित्सा मनुष्य के जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।


उपसंहार Conclusion

दोस्तों प्राथमिक चिकित्सा किसी भी दुर्घटना में अहम् रोल निभाती है, यहाँ तक की प्राथमिक चिकित्सा द्वारा व्यक्ति की जान भी बचाई जा सकती है, इसलिए सभी स्कूल और कॉलेज में प्राथमिक चिकित्सा की शिक्षा दी जानी चाहिए ताकि लोग प्राथमिक चिकित्सा द्वारा स्वास्थ्य तथा जनलाभ से लाभान्वित हो सके।

दोस्तों आपने इस लेख में प्राथमिक चिकित्सा प्राथमिक उपचार पर निबंध महत्व (First aid importance in hindi) के साथ अन्य महत्वपूर्ण तथ्यों को जाना, आशा करता हुँ, आपको यह लेख अच्छा लगा होगा है।  

  • इसे भी पढ़े:-

  1. प्रोटोजोआ के कारण मलेरिया और उनके प्रकार
  2. विश्व कैंसर दिवस की जानकारी और निबंध
  3. सरोगेसी क्या है सम्पूर्ण जानकारी
  4. विटामिन किसे कहते है, इसके प्रकार और कार्य


Post a Comment

और नया पुराने
close