शनि ग्रह का फल Shani grah ka fal

शनि ग्रह का फल

शनि ग्रह का फल Shani grah ka fal 

हैलो नमस्कार दोस्तों आपका बहुत - बहुत स्वागत है, इस लेख शनि ग्रह का फल (Shani grah ka fal) में। दोस्तों इस लेख के माध्यम से

आप शनि ग्रह का फल के अंतर्गत शनि ग्रह से संबधित व्यवसाय आदि भी जान पायेंगे। तो आइये दोस्तों करते है, शुरू शनि ग्रह का फल:-

शनि ग्रह का फल Shani grah ka fal 

शनि ग्रह का फल जातक की कुंडली में शनि ग्रह का भाव तथा स्थिति के आधार पर बताया जाता है, कि शनि ग्रह का फल आप पर अमुक व्यक्ति पर

किस प्रकार से पड़ेगा। शनि ग्रह का फल अशुभ पड़ेगा या शनि ग्रह का फल शुभ पड़ेगा। शनिदेव को न्याय का देवता माना जाता है,

जबकि उन्हें मेहनत करने वाले लोग अधिक पसंद होते हैं, किंतु व्यक्ति की कुंडली में शनि का भाव देखने पर जो व्यवसाय किए जाते हैं,

उनका लाभ अधिक लाभप्रद होता है, अगर व्यक्ति का शनि अधिक मजबूत है, तो वह विभिन्न प्रकार के बड़े व्यवसायों में हाथ डाल सकता है

और अच्छी सफलता प्राप्त कर सकता है, किंतु यदि शनि देव नीच भाव में होता है, तो कई बड़े-बड़े कार्यों में उसे घाटा हो जाता है, ऐसी स्थिति में व्यक्ति को अशुभ फल की प्राप्ति होती है।

शनि ग्रह का फल

शनि ग्रह से संबधित व्यवसाय Shani Grah se Sambandhit vayvsay 

  1. शनि देव उस स्थिति उस कार्य में उपस्थित होते हैं, जहाँ पर मेहनत शब्द होता है। अर्थात जितनी भी मेहनत वाले पैशे हैं वहाँ पर शनिदेव का वास होता है। अगर व्यक्ति मेहनत वाला व्यवसाय करना प्रारंभ करता है जैसे कि मेहनती टेक्नीशियन, मेहनती कारपेंटर, मेहनती लोहार मेहनती इंजीनियर आदि कुछ ऐसे पेशे जहाँ मेहनत शब्द जुड़े होते हैं, जहाँ पर मेहनत की आवश्यकता होती है, उस स्थिति में शनि ग्रह का जातक हमेशा सफल होता है। 
  2. यदि जातक का शनि अधिक मजबूत है, तो जातक विभिन्न प्रकार की मोटर गाड़ियों से संबंधित एजेंसी खोल सकता है, कार, मोटर, ट्रैक्टर आदि वाहन की एजेंसी खोलने पर जातक को अच्छी सफलता प्राप्त होती है। इसके अलावा विभिन्न कंस्ट्रक्शंस के कार्य और उनसे संबंधित व्यवसाय करना भी अधिक लाभकारी सिद्ध हो सकता है। 
  3. अगर व्यक्ति जमीन से निकलने वाले खनिज पदार्थों से संबंधित व्यवसाय जैसे कि लोहा, सोना, ताम्बा, कोयला, पेट्रोलियम से संबंधित कार्य करता है तो उसकी सफलता के आसार अधिक रहते हैं। आप खनिज पदार्थो से संबंधित व्यवसाय कर सकते हैं। अगर व्यवसाय करना भी नहीं चाहते तो वहाँ पर आप पर किसी भी पद पर नौकरी भी कर सकते हैं, जबकि ट्रांसपोर्टेशन का काम भी बहुत अच्छा हो सकता है, अगर आपकी इच्छा पड़े पद पर कार्य करने की है तो आप मिनिस्ट्री आफ कोल मिनिस्ट्री ऑफ पेट्रोलियम के अंतर्गत विभिन्न पदों पर कार्य कर सकते हैं।
  4. कुंडली में शनि की दशा को देखकर विभिन्न प्रकार के छोटे-मोटे व्यवसाय करके भी आप अपनी आजीविका को अच्छा मजबूत बना सकते हैं जैसे कि शनि देव को काली वस्तुएँ अधिक प्रिय है, वहाँ पर शनि देव उपस्थित रहते हैं और उस व्यवसाय को सफल बनाते हैं। काली वस्तुओं से संबंधित व्यवसाय जैसे कि काले चनों का व्यवसाय, काली दालों का व्यवसाय, तिलहन आदि का व्यवसाय करने से व्यक्ति को सफलता प्राप्त होती है। 

शनि ग्रह से सम्बंधित नौकरी Shani Grah se Sambandhit Naukari 

शनि देव से संबंधित विभिन्न प्रकार की नौकरियाँ भी हैं जो कुंडली में शनि देव की दशा के अनुसार होती हैं। अगर कुंडली में शनि उच्च भाव में है

तो अच्छी सरकारी नौकरी के प्रयास में आप सफल हो सकते हैं, किंतु नीच भाव में होने पर आपको तुच्छ नौकरी मिलने के आसार रहते है।

  1. शनि ग्रह को न्याय का देवता कहा जाता है, इसीलिए यह एक अच्छे स्टाफ भी होते हैं। अगर व्यक्ति स्टाफ सिलेक्शन कमीशन अर्थात कर्मचारी चयन आयोग से संबंधित विभागों में नौकरी करना चाहता है, तो उसके लिए सफल होने के आसार अधिक बढ़ जाते हैं। व्यक्ति को स्टाफ सिलेक्शन के अंतर्गत जीडी, मल्टी टास्किंग स्टाफ  सीजीएल आदि की तैयारी करना चाहिए, जिसमें सफलता के आसार अधिक रहते हैं। क्योंकि शनि ग्रह आपको स्टाफ का रास्ता दिखाते हैं, किंतु मेहनत व्यक्ति को ही करनी होती है।
  2. अगर आपकी कुंडली में शनि देव उच्च भाव वाले हैं, तो आप विभिन्न विभागों में उच्च पदों पर कार्य करने के लिए योग्य हो सकते हैं। आप पुरातत्व विभाग, खनिज विभाग आदि में किसी बड़े पद पर आसीन होकर कार्य कर सकते हैं, जबकि शनिदेव को न्याय का देवता भी माना जाता है इसलिए शनिदेव आपको अधिक मेहनत की ओर ले जाकर उच्च पद जैसे कि न्यायाधीश के पद पर आसीन कर सकते हैं। इसके साथ ही विभिन्न मंत्री पद, राजदूत के पद आदि भी शनि देव की दिशा के अनुसार प्राप्त होते हैं।
  3. जब कुंडली में शनि देव की स्थिति तथा भाव नीच होता है तब आपको नौकरी की ओर तो ले जाते हैं, किंतु आपको दूसरे लोगों के अंडर में नौकरी करनी होती है, ऐसी स्थिति में आप को नगर निगम के अंतर्गत सफाई कर्मचारी की नौकरी के आसार दिखाई देते हैं, इसके साथ ही आप विभिन्न विभागों में चपरासी की नौकरी के लिए भी योग हो सकते हैं, लेकिन इसके लिए भी आपको शनि ग्रह से सम्बंधित उपाय करने पड़ते है।

दोस्तों इस लेख में आपने शनि ग्रह का फल (Shani grah ka fal) के साथ अन्य तथ्यों को जाना। आशा करता हुँ, आपको यह लेख अच्छा लगा होगा।

इसे भी पढ़े:-

  1. चमत्कारी शनिचरा मंदिर मुरैना मध्यप्रदेश की जानकारी
  2. शुक्र ग्रह का स्वामी कौन है जानकारी


Post a Comment

और नया पुराने
close