विटामिन ई का तेल Vitamin-E Oil in hindi

विटामिन ई का तेल

विटामिन ई का तेल Vitamin-E Oil in hindi

हैलो नमस्कार दोस्तों आपका बहुत - बहुत स्वागत है, इस लेख विटामिन ई का तेल (Vitamin-E Oil in hindi) में। दोस्तों इस लेख में

आप विटामिन ई तेल क्या है? विटामिन ई तेल घर पर कैसे बनायें? विटामिन ई तेल के फायदे? विटामिन ई कैप्सूल और एलोवेरा जेल आदि के बारे में जानेंगे:-

विटामिन B1 स्रोत कमी रोग लक्षण फायदे

विटामिन ई का तेल Vitamin-E Oil in hindi

विटामिन ई वसा में धुलनशील विटामिन है, जिसका Chemical Name Tocopherol है। यह विटामिन कुछ वनस्पतियों के बीजों तथा पत्तियों से

प्राप्त किया जाता है। विटामिन ई एक Antioxident की तरह शरीर में कई महत्वपूर्ण कार्य करता है। विटामिन ई का तरल रूप विटामिन ई तेल कहलाता है।

विटामिन ई का तरल रूप एक ऐसा तेल है, जो आपकी Skin, nails and Hair को बड़ा ही सुन्दर आकर्षक तथा रोगरहित बनाता है।

विटामिन ई को जैवसंश्लेषण (Bio Synthesis) द्वारा जिनमें प्रकाश संश्लेषक पौधे भाग लेते है से निर्मित किया जाता है, जबकि बड़े पैमाने अर्थात औद्योगिक स्तर पर बड़ी - बड़ी कम्पनियों में इसे पौधों के बीजों वनस्पतियों से बनाया जाता है।

विटामिन ई का तेल

विटामिन ई तेल घर पर बनायें Make vitamin e oil at home

विटामिन ई का तेल घर पर आसानी से बनाया जा सकता है, जो मुख्य रूप से बालों की समस्याओ जैसे कि बालों का झड़ना, बालों में रूखापन, आदि को ख़त्म कर बालों को मजबूत चमकदार तथा लम्बे बनाता है। विटामिन ई तेल को घर पे निम्नप्रकार बनायें:-

सबसे पहले आप एक कटोरी में छोटे चम्मच से 8 चम्मच नारियल का या फिर जैतून का तेल लें फिर इसमें 4 चम्मच अरंडी का तेल मिला दीजिये।

अब आप 8 विटामिन ई कैप्सूल (Vitamin-E Capsule) लें और उसका आयल (Oil) निकाल कर उस कटोरी में डाल दें फिर उसमें चार चम्मच आँवला का तेल मिला दें।

अब मिश्रण को अच्छे से मिक्स करके एक कांच की बोतल में भरकर 2-3 घंटे के लिए धूप में रख दे इसके बाद आपका Vitamin-E Oil तैयार है। 

विटामिन ई तेल के फायदे Benefits of vitamin e oil

विटामिन ई अर्थात अल्फाटोकोफोरोल (Alpha Tocopherol) एक वसा में घुलनशील एंटीऑक्सीडेंट होता है, जो हमारे शरीर के लिए कई प्रकार से लाभदायक होता है जहाँ पर विटामिन ई तेल के कुछ फायदे बताए गए हैं:-

  1. विटामिन ई का तेल Skin के लिए बहुत ही लाभकारी होता है, आपकी त्वचा रूखी और खुरदरी हो गई है तो सोने से पहले आप अपनी त्वचा पर विटामिन ई का तेल अवश्य लगाएँ, जिससे आपकी त्वचा मुलायम नम और चमकदार बनती है, तथा उसका रूखापन, ठीलापन खत्म हो जाता है।
  2. अगर आपके चेहरे पर काले-काले छोटे-छोटे (Black Spot) से धब्बे हैं तो आप विटामिन ई का तेल या फिर विटामिन ई कैप्सूल का तेल निकालकर उसमें आंवले का तेल या फिर जैतून का तेल मिलाकर अपने उन काले धब्बों पर लगाएँ एक दिन में तीन चार बार इस क्रिया को दोहराएँ जिससे आपके चेहरे पर काले धब्बे गायब हो जाते हैं।
  3. विटामिन ई का तेल छालों तथा ओंठो के रूखेपन (Dry Lips) को दूर करने के लिए भी उपयोग में लाया जाता है, मुंह में छाले होने पर विटामिन ई के कैप्सूल तोड़कर उस छाले पर डालें तथा थोड़ी देर डाला रहने दें, इसके बाद मुंह में पानी भरकर उस पानी को मुंह में पूरी और घुमाएँ, जिससे होठों का रूखापन खत्म होता है, तथा छाले ठीक हो जाते हैं। 
  4. विटामिन ई का तेल बालों की समस्या Hair Problems के लिए भी बहुत ही असरकारक होता है। विटामिन ई का कैप्सूल का तेल निकाल कर उसे जैतून ऑयल के साथ मिलाकर बालों में लगाने से बालों का रूखापन खत्म होता है, बाल के रोम तथा ऊतक स्वस्थ्य होते है और बाल मजबूत घने तथा लम्बे बनते हैं।
  5. विटामिन ई का तेल त्वचा कैंसर में भी बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, विटामिन ई का तेल त्वचा की कोशिकाओं पर मलने से विटामिन ई में उपस्थित एंटीऑक्सीडेंट त्वचा की कैंसर कोशिकाओं को बढ़ने से रोकते हैं।
  6. शरीर में जब कभी भी कोई व्यक्ति मामूली सा जल जाता है या फिर किसी कटी हुई चोट का निशान रह जाता है उस पर विटामिन ई का तेल लें और उसे उस स्थान पर थोड़ा-थोड़ा आराम से लगाने से कुछ दिनों बाद वह निशान गायब हो जाता है।
  7. विटामिन ई का तेल एग्जिमा तथा सोरायसिस (Eczema and Psoriasis) नामक विकारों में भी असर कारक होता है, जहाँ पर इनके लक्षण दिखाई देते हैं, वहाँ पर विटामिन ई का तेल हल्के हाथों से मालिश करना चाहिए यह क्रिया दिन में तीन से चार बार करनी चाहिए कुछ दिनों बाद यह रोग गायब होने लगते हैं।

विटामिन ई कैप्सूल और एलोवेरा जेल Vitamin E Capsules and Aloe Vera Gel

विटामिन ई कैप्सूल और एलोवेरा जेल (Vitamin E Capsules and Aloe Vera Gel) दोनों को मिक्स करके लेप बनाकर चेहरे पर लगाना बड़ा ही लाभकारी होता है तथा चेहरे से संबंधित विभिन्न प्रकार की बीमारियों तथा रोगों को दूर करता है।

इसके लिए सबसे पहले आपको बाजार में मेडिकल स्टोर से दो विटामिन ई कैप्सूल लेना है, उसमें जो लिक्विड (Liquid) निकलता है उसको निकाल लेना है,

इसके साथ ही दो चम्मच एलोवेरा लिक्विड जिसे घर के एलोवेरा प्लांट से अच्छे से निकाल सकते हैं या फिर बाजार से एलोवेरा लिक्विड ले सकते हैं दोनों को किसी कटोरे में आपस में अच्छे से मिक्स करना है।

मिक्स करने के बाद अब आपके पास विटामिन ई कैप्सूल और एलोवेरा का जेल बनकर तैयार हो जाएगा। अब आपको अपने चेहरे (Face) को अच्छे से पानी से धो लेना है  और यह बना हुआ विटामिन ई

कैप्सूल और एलोवेरा का जेल अपने चेहरे पर लगाना है और 2 से 3 घंटे तक ऐसे ही इसे छोड़ देना है। 2 या 3 घंटे के पश्चात आप चेहरे को धो सकते हैं,

यह क्रिया आपको दिन में एक बार और लगातार 15 दिन तक करना है, जिससे आपके चेहरे के विभिन्न रोग जैसे की रूखी स्किन होना, डार्क सर्कल्स होना, चेहरे पर चमक ना होना खत्म हो जाती है और चेहरा एकदम रौनक मुलायम तथा चमकदार बनता है।

दोस्तों आपने इस लेख में विटामिन ई का तेल (Vitamin-E Oil in hindi) के साथ अन्य तथ्यों के बारे में पड़ा। आशा करता हुँ, आपको यह लेख अच्छा लगा होगा।

  • इसे भी पढ़े:-

  1. विटामिन किसे कहते है प्रकार तथा कार्य What is vitamin type and function
  2. विटामिन ई क्या है कमी लक्षण रोग स्त्रोत तथा फायदे Vitamin E Deficiency Symptoms Disease Source Benifit
  3. विटामिन ए क्या है कमी लक्षण रोग स्रोत तथा फायदे
  4. विटामिन डी क्या है कमी लक्षण रोग स्रोत तथा फायदे

Post a Comment

और नया पुराने
close