मुंशी प्रेमचंद्र की कहानियाँ Munshi Prechand ki Kahaniyan

मुंशी प्रेमचंद्र की कहानियाँ

मुंशी प्रेमचंद्र की कहानियाँ Munshi Prechand ki Kahaniyan

हैलो नमस्कार दोस्तों आपका बहुत-बहुत स्वागत है, आज के हमारे इस लेख मुंशी प्रेमचंद की कहानियों (Munshi Prechand ki Kahaniyan) में।

दोस्तों आज आप इस लेख के माध्यम से प्रसिद्ध कहानीकार और उपन्यासकार मुंशी प्रेमचंद की कहानियों के बारे में जानेंगे यहाँ पर दोस्तों मुंशी प्रेमचंद की कुछ प्रमुख कहानियों के नाम बताए गए हैं तो आइए दोस्तों बढ़ते हैं इस लेख में मुंशी प्रेमचंद की कहानियाँ:-

मुंशी प्रेमचंद की कहानी बूढ़ी काकी

मुंशी प्रेमचंद्र की कहानियाँ Munshi Prechand ki Kahaniyan

मुंशी प्रेमचंद्र ने अपनी कहानियाँ उर्दू और हिंदी दोनों भाषाओं में लिखी है और उनकी संपूर्ण कहानियों को प्रेमचंद्र रचनावली के नाम से जाना जाता है।

मुंशी प्रेमचंद्र ने अपने जीवन में लगभग 300 कहानियाँ लिखी है जिनमें प्रमुख रूप से मध्यमवर्गीय परिवारों का वर्णन दिखाई देता है।

मुंशी प्रेमचंद्र का पहला कहानी संग्रह सोजे वतन था जो 1918 में प्रकाशित हुआ था, जिसकी सबसे प्रसिद्ध और पहली कहानी दुनिया का सबसे अनमोल रतन थी। यहाँ पर मुंशी प्रेमचंद की कुछ प्रसिद्ध कहानियों के नाम निम्न प्रकार दिए गए हैं:- 

मुंशी प्रेमचंद्र की कहानियाँ Munshi Prechand ki Kahaniyan

1. अन्धेर

2. अनाथ लड़की

3. अपनी करनी

4. अमृत

5. अलग्योझा

6. आखिरी तोहफ़ा

7. आखिरी मंजिल

8. आत्म-संगीत

9. आत्माराम

10. दो बैलों की कथा

11. आल्हा

12. इज्जत का खून

13. इस्तीफा

14. ईदगाह

15. ईश्वरीय न्याय

16. उद्धार

17. एक आँच की कसर

18. एक्ट्रेस

19. कप्तान साहब

20. कर्मों का फल

21. क्रिकेट मैच

22. कवच

23. कातिल

24. कोई दुख न हो तो बकरी खरीद ला

25. कौशल़

26. खुदी

27. गैरत की कटार

28. गुल्‍ली डण्डा

29. घमण्ड का पुतला

30. ज्‍योति

31. जेल

32. जुलूस

33. झाँकी

34. ठाकुर का कुआँ

35. तेंतर

36. त्रिया-चरित्र

37. तांगेवाले की बड़

38. तिरसूल

39. दण्ड

40. दुर्गा का मन्दिर

41. देवी

42. देवी - एक और कहानी

43. दूसरी शादी

44. दिल की रानी

45. दो सखियाँ

46. धिक्कार

47 धिक्कार - एक और कहानी

48. नेउर

49. नेकी

50. नबी का नीति-निर्वाह

51. नरक का मार्ग

52. नैराश्य

53. नैराश्य लीला

54. नशा

55. नसीहतों का दफ्तर

56. नाग-पूजा

57. नादान दोस्त

58. निर्वासन

59. पंच परमेश्वर

60. पत्नी से पति

61. पुत्र-प्रेम

62. पैपुजी

63. प्रतिशोध

64. प्रेम-सूत्र

65. पर्वत-यात्रा

66. प्रायश्चित

67. परीक्षा

68. पूस की रात

69. बैंक का दिवाला

70. बेटोंवाली विधवा

71. बड़े घर की बेटी

72. बड़े बाबू

73. बड़े भाई साहब

74. बन्द दरवाजा

75. बाँका जमींदार

76. बोहनी

77. मैकू

78. मन्त्र

79. मन्दिर और मस्जिद

80. मनावन

81. मुबारक बीमारी

82. ममता

83. माँ

84. माता का ह्रदय

85. मिलाप

86. मोटेराम जी शास्त्री

87. र्स्वग की देवी

88. राजहठ

89. राष्ट्र का सेवक

90. लैला

91. वफ़ा का खजर

92. वासना की कड़ियां

93. विजय

94. विश्वास

95. शंखनाद

96. शूद्र

97. शराब की दुकान

98. शान्ति

99. शादी की वजह

100. शान्ति

101. स्त्री और पुरूष

102. स्वर्ग की देवी

103. स्वांग

104. सभ्यता का रहस्य

105. समर यात्रा

106. समस्या

107. सैलानी बन्दर

108. स्‍वामिनी

109. सिर्फ एक आवाज

110. सोहाग का शव

111. सौत

112. होली की छुट्टी

113.नमक का दरोगा

114.गृह-दाह

115.सवा सेर गेहूँ नमक का दरोगा

116.दूध का दाम

117.मुक्तिधन

118.कफ़न

दोस्तों आपने इस लेख में मुंशी प्रेमचंद की कहानियाँ (Munshi Prechand ki Kahaniyan) के नाम के बारे में जाना आशा करता हूँ, आपको यह लेख अच्छा लगा होगा।

इसे भी पढ़े:- 

  1. मुंशी प्रेमचंद का जीवन परिचय Jivan Parichay of Munshi Premchand
  2. मुंशी प्रेमचंद की कहानी परीक्षा Munshi Premchand Story Pareeksha

Post a Comment

और नया पुराने
close